तनाव और चिंता है सिर में भारीपन का कारण, जानें क्या है इससे बचने का उपाय

0

हेल्थ डेस्क (संदेशवाहक न्यूज़ डेस्क)। सिर में भारीपन आजकल एक आम समस्या बनती जा रही है। इस कारण किसी भी काम मे मन नही लगता। यह कई कारणों से हो सकता है और कई बार बहुत हमें बहुत तनावग्रस्त और चिड़चिड़ा बना देता है। सिर में भारीपन की समस्या का कोई एक कारण नहीं है, और ना ही ये एक समस्या है। यह भारीपन अक्सर कई स्वास्थ्य कारणों से हो जाता है। जब सिर भारी हो जाता है, तब हम कुछ भी करनें में असमर्थ हो जाते हैं। सिर में भारीपन होनें पर आपको चक्कर आने लगते हैं और सिर में दर्द भी हो जाता है। इसके अलावा सिर की नसों में दर्द भी हो जाता है।

सिर में भारीपन के कुछ कारण

  1. सिर और गर्दन में चोट
  2. सिर में भारीपन का कारण हो सकती है थकान
  3. तनाव और चिंता
  4. माइग्रेन
  5. कान की समस्या
  6. वाई के दुष्प्रभाव से

- Advertisement -

मुख्य रूप से सिर में भारीपन का कारण हार्मोन में बदलाव हो सकता है। इसके अलावा यदि सिर और गर्दन की मांसपेसियों में खिंचाव है, तो भी सिर में भारीपन आ सकता है। इसके लिए यह जरूरी है कि पूरी नींद लें और अपनी मांसपेसियों को आराम पहुंचाएं। सिर और गर्दन में किसी प्रकार के खिंचाव या अन्य गतिविधि के कारण भी सिर में भारीपन हो सकता है।

सिर में भारीपन के लक्षण
सिर में भारीपन से जुड़ी कई चीजें हैं, जो लक्षण के तौर पर हम देख सकते हैं। मुख्य रूप से महसूस करेंगे कि सिर पर अत्यधिक वजन रख दिया हो। इसके अलावा चक्कर आने का आभास भी रहता है। सिर में भारीपन के मुख्य लक्षण निम्न हैं- सिर में दर्द, माइग्रेन, मन नहीं लगना, चक्कर आना, सिर का सुन्न हो जाना, सिर में दबाव महसूस करना, दस्त की समस्या, पेट में गैस, नाक का बहना, अत्यधिक पसीना आना, चिंता, तनाव, थकान,मांसपेसियों में खिंचाव, सिर में भारीपन और चिंता जैसे लक्षण सामने आते है।

जब अत्यधिक चिंता हो जाती है, तब हम सिर पर अत्यधिक दबाव डालते हैं, जिससे सिर भारी हो जाता है। इस दौरान ह्रदय-गति भी तेज हो जाती है और मन में बहुत सी चीजें एक साथ चलने लग जाती हैं। ये सारी चीजें दिमाग और सिर पर अत्यधिक दबाव डालती हैं, जो सिर में भारीपन का कारण बनता है।

इस समस्या के समाधान के लिए यह जरूरी है कि ज्यादा ना सोचें। इसके अलावा चिंता को दूर करनें के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियाँ कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर ऐसा कुछ कर सकते हैं, जो आपको पसंद हो और जो आपकी चिंता को दूर कर सके।

सिर में भारीपन का इलाज
सबसे पहले तो यह जरूरी है कि आप इसका असली कारण जानें। इसके लिए आप किसी सुयोग्य होमियोपैथिक चिकित्सक के पास जाएँ। वो आपको इसका असली कारण बताते है और आपके लक्षणानुसार इसकी दवा देते हैंl अपनी जीवन शैली में अवश्य बदलाव करें। विभिन्न प्रकार की शारीरिक गतिविधियों में शामिल हो। रोजाना सुबह सैर पर जा सकते हैं। मोबाइल का कम उपयोग करें तथा अन्धेरे मे तो बिल्कुल ही ना करें। कानों मे ज्यादा ईयरफ़ोन मत लगायेंl आखों का नियमित जांच करवायेंl इसके अलावा आप पार्क में घूमनें जा सकते हैं। बढ़िया संगीत सुनिये, परिवार एवं मित्रों के साथ कुछ समय बिताइयेl हंसिये और हँसाइए।