Land for Job scam case: राबड़ी देवी और मीसा भारती को कोर्ट में पेश होने के निर्देश, दिल्ली रवाना

Land for Job scam case: बिहार में लालू यादव के परिवार की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ने वाली है। कोर्ट ने लालू यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती को पेश होने के निर्देश दिए हैं।

जमीन के बदले नौकरी मामले में प्रवर्तन निदेशालय द्वारा की जा रही कार्रवाई के बीच राउज एवेंयू कोर्ट में शुक्रवार 9 फरवरी को सुनवाई होनी है। इस मामले में अदालत ने 9 फरवरी को राबड़ी देवी और राज्यसभा सदस्य डा. मीसा भारती को भी उपस्थित होने का निर्देश दिए हैं। कोर्ट के निर्देश पर राबड़ी देवी और मीसा भारती बुधवार की शाम दिल्ली रवाना हो गई।

क्या है जमीन के बदले नौकरी मामला?

- Advertisement -

लालू प्रसाद यादव के रेल मंत्री के कार्यकाल के दौरान 2004 से 2009 तक यूपीए सरकार में निर्धारित मानदंडों का उल्लंघन करके और बिना किसी विज्ञापन या सार्वजनिक सूचना के रेलवे में पसंदीदा उम्मीदवारों की नियुक्ति की गई थी। पटना के कुछ निवासियों को मुंबई, जबलपुर, कोलकाता और जयपुर में स्थित विभिन्न जोनल रेलवे में स्थानापन्न के रूप में नियुक्त किया गया था।

वहीं, सीबीआई ने आरोप लगाया कि 2004-2009 की कार्यकाल के दौरान रेल मंत्री के रूप में लालू प्रसाद यादव ने नियुक्ति के बदले में अपने परिवार के सदस्यों के नाम पर भूमि संपत्ति के हस्तांतरण के रूप में आर्थिक लाभ प्राप्त किया था। यह रेलवे के ग्रुप डी पदों के लिए था।

इससे पहले तेजस्वी यादव और उनके पिता लालू प्रसाद यादव को इसी मामले में ईडी के सामने पेश होना पड़ा था। दोनों नेताओं ने ईडी के कड़े सवालों का जवाब दिया था। अब राबड़ी और मीसा भारती की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

Also Read: उत्तराखंड विधानसभा में पास हुआ UCC बिल, समान कानून लागू करने वाला बना पहला राज्य

Get real time updates directly on you device, subscribe now.